Tuesday, July 16, 2019

Prabhat

ABS kya hota hai aur kaise kaam karta hai | ABS क्या होता है और कैसे काम करता है ?

ABS(Anti lock breaking system) kya hai aur kaise kaam karta hai

हेलो दोस्तों, आज मैं आपको ABS के बारे में बताने जा रहा हूँ । दोस्तों अगर आपको तेज बाइक या तेज कार चलाने का शौक है तो फिर आपको ABS के बारे में जरूर पता होगा । अगर आपको ABS के बारे में नहीं पता है तो  कोई बात नहीं आज मैं इस आर्टिकल में आपको ABS के बारे में सब कुछ बताऊंगा ।
दोस्तों आपने अक्सर देखा होगा की जब भी हम तेज ड्राइविंग करते हैं और अगर अचानक से कोई सामने आ जाए फिर हम जोर से ब्रेक लगाते हैं फिर होता ये है की हमारी गाड़ी अनियंत्रित हो जाती है और फिर संतुलन खो देती है जिसकी वजह से एक्सीडेंट हो जाता है  । आज के समय में इस तरह की घटना दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं । इस तरह के एक्सीडेंट की वजह से रोज न जाने कितने लोगों की जान जाती है । इस तरह के एक्सीडेंट को रोकने के लिए काफी कम्पनियाँ कोशिश करती रहती हैं । ऐसे ही एक्सीडेंट को रोकने के लिए एक टेक्नोलॉजी का आविष्कार किया गया है जिसका नाम है ABS । अब ये ABS क्या है और कैसे काम करता है इस आर्टिकल में मैं आपको ये सब बताऊंगा  ।

ABS kya hai aur kaise kaam karta hai, ABS braking system in hindi
ABS kya hota hai aur kaise kaam karta hai 


ABS  क्या है ?


ABS की फुल फॉर्म होती है  Anti lock braking system.
ABS एक ऐसी टेक्नोलॉजी जिससे हम एक्सीडेंट रोक सकते हैं हैं और जिससे हम safe ड्राइविंग और अच्छा control फील करते हैं । उदहारण देकर मैं आपको समझाता हूँ  जैसे की मान लो आप बहुत तेज स्पीड में कार चला रहे हैं और अचानक से कोई सामने आ जाए तो फिर आप अचानक से ब्रेक लगाएंगे । ब्रेक लगाने के बाद आपकी कार फिसलती हुई दूर तक जाएगी जिससे कि एक्सीडेंट का चांस बढ़ जायेगा और अगर आपकी गाड़ी में ABS लगा होगा तो आप safely कार रोक पाएंगे ।

ABS कैसे काम करता है ?

दोस्तों, अब मैं आपको बताऊंगा कि ABS कैसे काम करता है । ABS कोई component  नहीं है पर इसके काफी component हैं जी कि एक system  में काम करते हैं ।
इस ABS में एक sensor  होता है जो कि हमेशा पहिये कि स्पीड पर focus करता है और फिर speed controller device को data  सेंड करता है । उसके बाद speed controller device  ये चेक करता है कि कार कि स्पीड कम हुई है या नहीं । जब ड्राइवर अचानक से ब्रेक लगाता है फिर स्पीड कम होती है तब speed controller device समझ जाता है कि अभी एक्सीडेंट वाली situation है । ठीक उसके बाद ABS activate हो जाता है । फिर ABS ये जानने कि कोशिश करता है कि कौन सा पहिया धीमा हो रहा है और फिर valve ब्रेक प्रेशर को कम कर देता है ।
उसके बाद फिर पहिये कि स्पीड accelerate होती है और फिर सभी पहियों कि स्पीड same होती है ।कंट्रोलर फिर से पहिये कि स्पीड decelerate कर देता है और फिर स्पीड कम हो जाती है । उसके बाद फिर स्पीड accelerate होती है । इसी तरह acceleration और deceleration होता रहता है एक सेकंड में कम से कम २० बार । इसके अलावा आपको कुछ काम नहीं करना होता है ABS अपना काम अच्छे से करता है । इसके कारण आप बहुत आसानी से अपनी गाड़ी को कण्ट्रोल कर सकते हैं और गाड़ी को safely रोक सकते हैं ।

ABS के फायदे 

ABs का सबसे बड़ा फायदा ये है कि इससे एक्सीडेंट होने के chance कम हो जाता है ।
इसकी वजह से आप आसानी से अपनी गाड़ी को कण्ट्रोल कर सकते हैं ।
ये टेक्नोलॉजी ज्यादा महंगी भी नहीं है ।
आपकी कार जल्दी फिसलेगी नहीं ।

दोस्तों अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया है तो इसको अभी शेयर करे  और अगर ABs से जुडी कोई और जानकारी आप चाहते हैं तो अभी कमेंट करें ।

Prabhat

About Prabhat -

Author Description here.

Subscribe to this Blog via Email :